अखाड़ा परिषद ने जारी की फेक बाबाओं की लिस्ट, राधे मां समेत 14 लोग शामिल

3

Source: bhaskar.com

अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद ने फर्जी बाबाओं की लिस्ट जारी की है।अखाड़ा परिषद ने जारी की फेक बाबाओं की लिस्ट, राधे मां समेत 14 लोग शामिल

इलाहाबाद में रविवार को इस संबंध में अखाड़ा परिषद की बैठक हुई, जिसमें फेक बाबाओं की लिस्ट सार्वजनिक की गई।

इलाहाबाद. अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद ने रविवार को फर्जी बाबाओं की लिस्ट जारी की। इसमें राधे मां समेत 14 लोग शामिल हैं। अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि ने कहा, ” ये उन लोगों की लिस्ट है, जो धर्म के नाम पर लोगों को गुमराह कर रहे हैं। ऐसे बाबाओं जेल में डाल देना चाहिए और इनकी संपत्त‍ि जब्त कर लेनी चाहिए।” लिस्ट में आसाराम, ओम और निर्मल बाबा के भी नाम…
– अखाड़ा परिषद ने 14 लोगों की लिस्ट जारी की है।
1-आसाराम बापू उर्फ़ आसुमल शिरमालानी।
2- राधे मां उर्फ सुखविंदर कौर
3-सच्चिदानंद गिरी उर्फ सचिन दत्ता।
4-गुरमीत सिंह सच्चा डेरा सिरसा।
5-ओम बाबा उर्फ विवेकानंद झा।
6-निर्मल बाबा उर्फ निर्मलजीत सिंह।
7- इच्छाधारी भीमानंद उर्फ शिवमूर्ति द्विवेदी।
8-स्वामी असीमानंद।
9-ओम नमः शिवाय बाबा।
10-नारायण साईं।
11-रामपाल।
12-कुशमुनि।
13-स्वामी ब्रष्पद।
14-मलखान गिरी।
संत की उपाधि देने के लिए प्रक्रिया बनाई जाएगी
अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद ने कहा है कि संत की उपाधि देने के लिए बाकायदा एक प्रक्रिया (मैकेनिज्म) तैयार की जाएगी।
– डेरा सच्चा सौदा चीफ राम रहीम को 20 साल की सजा के बाद हिंदू धर्मगुरुओं ने ये फैसला लिया है।
– विश्व हिंदू परिषद के ज्वाइंट सेक्रेटरी सुरेंद्र जैन के मुताबिक, संतों के बीच ये बात काफी शिद्दत से महसूस की जा रही थी कि एक या दो लोगों की गलतियों का खामियाजा पूरे संत समाज को भुगतना पड़ता है।
– “अखाड़ा परिषद मानता है कि संत की उपाधि का गलत इस्तेमाल हो रहा है। अब उपाधि को एक प्रॉसेस के तहत दिया जाएगा।”
नरेंद्र गिरि को मिली जान से मारने की धमकी
– नरेंद्र गिरि को जान से मारने की धमकी मिली है। अखाड़ा परिषद की बैठक से एक दिन पहले शनिवार को गिरि ने फोन पर खुद को जान से मारे जाने की मिल रही धमकी के बारे में बताया। इस संबंध में उन्होंने इलाहाबाद के दारागंज थाने में अज्ञात लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है।
– गिरि ने मीडि‍या से बातचीत में बताया कि पिछले 3 दिनों से उन्हें जान से मारने की धमकी मिल रही हैं। फोन करने वालों ने खुद को रेप केस में जेल में बंद आसाराम का शिष्य बताया है। तीन अलग-अलग मोबाइल नंबरों से फोन कर धमकियां दी गईं हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here