राम-कृष्ण हमारे पूर्वज, लेकिन योगीजी आप भी तो पैगंबर को मानोः आजम

4

Source: bhaskar.com

आजम खान ने कहा कि गोरखपुर का राजा (योगी आदित्यनाथ) गोरखपुर से चुनाव नहीं जीत सकते था, इसलिए एमएलसी बन गया।

राम-कृष्ण हमारे पूर्वज, लेकिन योगीजी आप भी तो पैगंबर को मानोः आजम

संभल. सपा नेता आजम खान ने कहा, “राम-कृष्ण हमारे पूर्वज हैं, लेकिन आप भी तो मानिए कि पैगंबर मोहम्मद साहब आपके पूर्वज थे।” आजम ने ये बयान रविवार को उस वक्त दिया, जब वे संभल से नगरपालिका चेयरमैन पद के लिए चुनाव लड़ रहीं कैंडिडेट के समर्थन में स्पीच दे रहे थे।

गोरखपुर का राजा नहीं जीत सकता था चुनाव

– योगी आदित्यनाथ को गोरखपुर का राजा और छोटा बादशाह बताते हुए आजम ने कहा- “गोरखपुर का राजा (योगी आदित्यनाथ) गोरखपुर से चुनाव नहीं जीत सकते था, इसलिए एमएलसी बन गया।”
– स्थानीय निकाय में सपा की जीत का दावा करते हुए आजम ने कहा- “जिस वार्ड में योगी आदित्यनाथ का मंदिर है, वहां से बीजेपी नहीं, बल्कि सपा का वार्ड मेंबर चुनाव जीतकर आएगा।”

तीन तलाक मानने को तैयार

– मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर हमला बोलते हुए कहा- “हम मानते हैं कि मुगल हमारे पूर्वज नहीं हैं, बल्कि राम, सीता और कृष्ण हमारे पूर्वज हैं। लेकिन योगीजी मोहम्मद साहब भी आपके पूर्वज थे। आपको ये भी मानना चाहिए।”
– तीन तलाक पर सपा नेता ने कहा- “मोदी अगर हम मुसलमानों का भला चाहते, तो गुजरात दंगे में कितनी बहनें विधवा हुई होतीं। हम तीन तलाक को मानने के लिए तैयार हैं।

पिछले चुनाव में नहीं दिया था सिंबल

– आजम खान ने कहा, “पिछले चुनाव में समाजवादी पार्टी ने निकाय चुनाव में सिंबल नहीं दिया था और उसकी वजह थी कि सरकार पर ताकत के दुरुपयोग का आरोप नहीं लगा। लेकिन बीजेपी ने उस समय चुनाव चिह्न दिया तो ठीक किया। लेकिन अब सत्ता में आने के बाद भी बीजेपी सिंबल पर चुनाव लड़ रही है। जिस पार्टी की ज्यादातर राज्यों में सरकार हो, उसको निष्पक्ष चुनाव के लिए हाथ खुले छोड़ना चाहिए।”
– “आजादी के बाद ऐसा पहली बार हुआ है कि किसी पार्टी ने घोषणा पत्र जारी किया है। ऐसा भी पहली बार हुआ है कि किसी राज्य का मुख्यमंत्री खुद चुनाव प्रचार में हो और उन्होंने अपने प्रचार की शुरुआत किसी मोहब्बत जगह से नहीं, बल्कि उस विवादित जगह से की है, जिसका मुकदमा देश की सर्वोच्च अदालत में है।”

– बता दें कि सीएम योगी आदित्यनाथ ने निकाय चुनावों के प्रचार की शुरुआत अयोध्या-फैजाबाद से की थी।

अधिकारियों को दी धमकी

– आजम ने भरे लहजे में कहा- “जिन अफसरों को 5 साल से ज्यादा नौकरी करनी है, वो चुनाव खराब न करें और जिन्हें पांच साल करनी है, वो जो चाहे करें।”
– मंच से ही जिले के डीएम और एसपी को चेतावनी देते हुए कहा कि आने वाले चुनाव में आपकी काम निष्पक्ष होनी चाहिए। बीजेपी को जिताने के लिए आप ऐसा कुछ नहीं करें, जिससे जनता और समाजवादी पार्टी को शिकायत हो, क्योंकि सरकार हमेशा नहीं रहती।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here