बॉलीवुड के ये 5 गाने बना देंगे आपकी जन्माष्टमी को खास

13

Source: khabar.ndtv.com

नई दिल्ली: बॉलीवुड और हमारे त्योहारों का नाता कुछ ऐसा है कि इसके बिना सब कुछ अधूरा-अधूरा लगता है. आज जन्माष्टमी यानी भगवान कृष्ण का जन्मदिन है. इस मौके पर बॉलीवुड को कैसे भुलाया जा सकता है क्योंकि हांडी फोड़ने का आयोजन तो बॉलीवुड की अधिकतर फिल्मों का विषय रहा है, और हांडी फोड़ने जाने वाला हीरो खामोश तो जाता नही है. वह अपनी टोली के साथ जाता है और पूरे जोश-खरोश के साथ भी. इस तरह फिल्म में एक खास मौका दिखाने को मिल जाता है और उसके साथ ही एक गाने की सिक्वेंस भी बन जाती है. आज जन्माष्टमी के मौके पर हम आपके लिए लाए हैं कुछ ऐसे ही गाने, जो इस मौके को बना देंगे खासः

गोविंदा आला रे, ब्लफ मास्टर (1963)
शम्मी कपूर का अपनी टोली के साथ आना और खूब धूम मचाना, हर जन्माष्टमी पर चित्रहार का अहम हिस्सा हुआ करता था. इस गाने को कल्याणजी-आनंदजी ने कंपोज किया और मोहम्मद रफी ने गाया.

यशोमति मैया से बोले नंदलाला, सत्यम शिवम सुंदरम (1978)
राज कपूर की फिल्मों की खासियत उसके गाने रहते हैं. सत्यम शिवम सुंदरम भी इसकी मिसाल रही है. बेबी पद्मिनी कोल्हापुरे का यह गाना न सिर्फ सुनने में अच्छा लगता है, बल्कि फिल्म में भी इसका काफी महत्व है. इसकी गायिका लता मंगेशकर हैं और संगीत लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल का है.

चांदी की डाल पर, हैलो ब्रदर (1999)
सलमान खान और रानी मुखर्जी का यह गाना अलग ही तरह की मस्ती समेटे हुए है. इसमें सलमान और रानी का बिंदास अंदाज है. हिमेश रेशमिया का म्यूजिक है और सलमान खान के साथ अलका याग्निक ने गाया है.

राधा कैसे न जले, लगान (2001)
ग्रेसी सिंह वन फिल्म वंडर साबित हुईं, और उनका करियर लगान के बाद परवान नहीं चढ़ सका. लेकिन इस गाने में आमिर खान और ग्रेसी की कैमिस्ट्री कमाल थी, और भगवान कृष्ण से जुड़ा यह गाना हमेशा सुना जा सकता है. इस प्यार से सॉन्ग में ए.आर. रहमान का म्यूजिक है और इसमें उदित नारायण, आशा भोसले और वैशाली सामंत ने अपने सुरों से सजाया है.

गो गो गोविंदा, ओह माय गॉड (2012)
बॉलीवुड में लड़कियों के दही हांडी फोड़ने की परंपरा नहीं है लेकिन ओह माय गॉड के इस गाने ने नई परंपरा कायम की. इस गाने में सोनाक्षी सिन्हा न सिर्फ कमाल-धमाल डांस करती हैं बल्कि वे दही हांडी भी फोड़ती हैं. सोनाक्षी हिमेश रेशमिया के म्यूजिक और मीका सिंह और श्रेया घोषाल के सुरों पर थिरकी थीं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here