भारतीय संस्कृति को बचाना है तो गाय, गंगा और तुलसी को बचाना होगा : योगी

10

Source: bhaskar.com

राजधानी में विश्व हिंदू परिषद के सहयोगी गौ रक्षा संगठन पहला राष्ट्रीय अधिवेशन का आयोजन किया है।
 भारतीय संस्कृति को बचाना है तो गाय, गंगा और तुलसी को बचाना होगा : योगी
योगी आदित्यनाथ ने कहा- गौ हत्या करने वालों की जगह जेल होगी।
लखनऊ. राजधानी में विश्व हिन्दू परिषद के सहयोगी गौ रक्षा संगठन द्वारा आयोजित अधिवेशन में सीएम योगी आदित्यनाथ ने शिरकत की। योगी आदित्यनाथ नें अधिवेशन को संबोधित करते हुए कहा- “भारतीय संस्कृति को बचाना है तो गाय, गंगा और तुलसी को बचाना होगा। हर जिले में गौ- शाला खोलेगी सरकार
-योगी ने कहा- “गौ चर भूमि के अवैध कब्जों को लेकर एंटी भू-माफिया टीम का गठन किया गया है। एक भी भू-माफिया को छोड़ा नहीं जायेगा। गौ सेवा के लिये हमे अपने स्तर पर सार्थक प्रयास करना चाहिये। हमारे काम से समाज में कहि वैमनस्यता पैदा ना हो। उस दिन हमारे काम पर कोई प्रश्न चिन्ह नहीं उठायेगा।”
-45 हजार हेक्टयर भूमि को भू-माफियाओं से एंटी भू-माफिया ने कब्जा हटवाया। सरकार हर जिले में गौ शाला खोलेगी लेकिन उसका संचालन जनता को ही करना पड़ेगा। हमें ये एहसास पूरे समाज को कराना होगा कि हमारे लिए और समाज के लिए गाय कितनी उपयोगी है।
-गोवंश के नस्ल की सुधार की प्रक्रिया चल रही है।
जर्सी, फिजी, नस्ल को बढ़ा कर भारत के गोवंश को खत्म किया गया। हमारी देशी गायों की उयोगिताओं को कम करने का प्रयास हुआ। हमें इसे रोकना होगा।
-उन्होंने कहा-“एक पवित्र कार्य में आप सब लगे हैं। यह क्षण प्रफुलित करने वाला पल है।
गोरक्षा, गो-संवर्धन भारतीयों के लिए एक मुद्दा रहा है।
कलांतर में स्थितियां बदली। लोग गाय का दूध पीते हैं और सड़क पर छोड़ देते हैं। अगर आधुनिकता के साथ विकास प्रक्रिया को नहीं अपनाया गया हम तो पिछड़ जाएंगे
गौ हत्या करने वालों को जेल
-जो लोग गो हत्या करेंगे उनकी जगह जेल में होगी। मैं चाहूंगा कि आप सब लोग आपसी सहमति से एक गाय के लिए एक परिवार से चारा लीजिए। सरकार शेड बनवा देगी, हम पानी की व्यवस्था करवा देंगे, लेकिन गौरक्षा करने वाले लोगों को उसके चारे की व्यवस्था करेंगे।
-कानून किसी चीज को संरक्षण दे सकता है, लेकिन उसे लागू करना, करवाना सबका प्रयास ही होगा। हमें साल भर का चारा इकट्ठा करना होगा, इसमे अन्य लोगों का भी सहयोग जरूरी होना चाहिए।
कोई गौ वंश सड़कों पर पॉलिथीन न खाए, कचरा न खाए, इसका ध्यान सबको रखना होगा।
-नंदी हमारे लिए कई रूप में महत्वपूर्ण हैं। लेकिन उसकी उपयोगिता हमें सोचनी होगी।
हमने अवैध स्लॉटर हाउस बंद करवाए हैं, लेकिन जगह-जगह गौवंश सड़कों पर घूमते हैं, इसके लिए समाज जिम्मेदार है। अब समाज को ही आगे आना होगा जिससे इस तरह की समस्या से निपटा जा सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here