परंपरा के नाम पर सहना पड़ता है दर्द, कुल्हाड़ी से कांट देते हैं उंगली

13

Source: bhaskar.com

इंडोनेशिया की दानी जनजाति में कुछ ऐसी परम्परोओं पालन किया जाता है जिनके बारे में भी सोच कर डर लगता है।
परंपरा के नाम पर सहना पड़ता है दर्द, कुल्हाड़ी से कांट देते हैं उंगली
पति या किसी अपने की मौत पर काट दी जाती है महिलाओं की उंगली
दुनिया में ऐसी कई जनजातियां हैं, जिनके रस्मों-रिवाजों के बारे में सुनकर हैरानी होती है। आज भी इन ट्राइब्स के लोग सालों से चली आ रही प्रथाओं का पालन करते नजर आते हैं। ऐसी ही एक अजीबोगरीब दर्दनाक प्रथा का पालन इंडोनेशिया के पापुआ में रहने वाले दानी जनजाति (Dani Tribe) के लोग करते हैं, जिसके बारे में सुनकर हर कोई हैरान हो सकता है। आत्मा की शांति के लिए काटते हैं अंगुलियां…
दानी जनजाति में परिवार के मुखिया की मौत पर फैमिली के सदस्यों जैसे महिलाओं, पुरुषों और बच्चों की अंगुलिया कुल्हाड़ी से काट दी जाती है। इतना ही नहीं, इनके चेहरों पर मिट्टी और राख भी पोती जाती है। इस जनजाति के लोगों का मानना है कि परिवार के सदस्यों की अंगुलियां काटने से उन्हें जो दर्द होता है उससे मृत व्यक्ति की आत्मा को शांति मिलती है।

बताया जाता है कि व्यक्ति की अंगुलियां काटने से पहले उनको धागे से 30 मिनट बांधकर रखा जाता है। इसके बाद कटी गई अंगुलियों को सूखाकर जलाया जाता है। हालांकि, सरकार ने कुछ साल पहले इस परंपरा पर बैन लगा दिया, लेकिन फिर भी दानी जनजाति के लोग इसे अभी तक निभाते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here