चमचमाते मंदिरों से लेकर जंगल तक पड़ गए काले, इसलिए हुआ ऐसा हाल

4

Source: bhaskar.com

बाली द्वीप में माउंट आगंग ज्वालामुखी में विस्फोट की आशंका से रेड अलर्ट जारी किया गया है।
 चमचमाते मंदिरों से लेकर जंगल तक पड़ गए काले, इसलिए हुआ ऐसा हाल, international news in hindi, world hindi news
ज्वालामुखी की राख में काला पड़ गया माउंट आगंग ज्वालामुखी से करीब 15 किमी दूर स्थित मंदिर। मंदिर के सिर्फ गोल्डन दरवाजे ही नजर आ रहे हैं।
इंटरनेशनल डेस्क. इंडोनेशिया के बाली द्वीप में माउंट आगंग ज्वालामुखी में विस्फोट की आशंका से रेड अलर्ट जारी किया गया है। हाल ही में यहां हुए विस्फोटों की आवाज 12 किमी दूर तक सुनी गई। इसके अलावा करीब 6 किमी तक के एरिए को उफनते लावे ने ढंक लिया। इसके अलावा धुएं और राख का गुबार 4000 मीटर ऊपर तक उठ रहा है, जिसके चलते माउंट अगुंग के एतिहासिक और प्राचीन मंदिर से लेकर जंगल तक काले पड़ गए हैं। 20 किमी की रेंज में सारे इलाके खाली कराए गए…

– आइसलैंड की बर्फीली पहाड़ियों में स्थित इस ज्वालामुखी में पिछले कई दिनों से तेज भूकंप आ रहे थे।
– भूकंप के झटकों के चलते ही बर्दरबुंगा में तेज हलचल शुरू हो गई है।
– खतरे के मद्देनजर सरकार ने ज्वालामुखी के आसपास के करीब 20 किमी के इलाके को खाली करा लिया है।
– इसके अलावा इस रूट से निकलने वाली सारी फ्लाइट का रास्ता भी बदल दिया गया है।

54 साल पहले भी 7. 5 किमी तक फैली थी अगुंग की राख
अगुंग ज्वालामुखी 54 साल पहले भी भड़का था। उस समय 7.5 किमी तक ज्वालामुखी का लावा फैला था। 1100 से ज्यादा लोग मारे गए थे।

इंडोनेशिया में अब भी 120 ज्वालामुखी सक्रिय
इंडोनेशिया में अभी भी 120 ज्वालामुखी सक्रिय हैं, जो कभी भी फूट सकते हैं। यहां की आपदा निवारण एजेंसी ने स्थिति को पहले से ज्यादा खतरनाक बताया है।

चमचमाते मंदिरों से लेकर जंगल तक पड़ गए काले, इसलिए हुआ ऐसा हाल, international news in hindi, world hindi news

चमचमाते मंदिरों से लेकर जंगल तक पड़ गए काले, इसलिए हुआ ऐसा हाल, international news in hindi, world hindi news

चमचमाते मंदिरों से लेकर जंगल तक पड़ गए काले, इसलिए हुआ ऐसा हाल, international news in hindi, world hindi news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here