घर में रखा तुलसी का पौधा फायदे की बजाय नुक्सान भी पहुंचा सकता है

6

Source: m.punjabkesari.in

घर में रखा तुलसी का पौधा फायदे की बजाय नुक्सान भी पहुंचा सकता है

वास्तुशास्त्र का जीवन में काफी महत्व है। घर में किस वस्तु को किस दिशा या स्थान पर रखना चाहिए इसकी जानकारी वास्तु-शास्त्र से मिलती है। मान्यता है कि वास्तु-शास्त्र के अनुसार अगर घर को सजाया जाए तो घर में खुशहाली आती है। कई बार हम घर का वातावरण अच्छा करने के लिए पौधे लगाते हैं लेकिन वास्तु ठीक न होने के कारण घर में नकारात्मक ऊर्जा आती है। लेकिन अगर इन्हीं पौधों को वास्तु में बताए गए स्थान पर लगाएं तो बहुत ही शुभ होता है।
वास्तु के मुताबिक तुलसी का पौधा घर में जरूर होना चाहिए। मान्यता है कि इस पौधे में साक्षात मां लक्ष्मी का वास होता है। इसके घर में होने से कंगाली दूर होती है। साथ ही इसे लगाने से घर में नकारात्मक ऊर्जा प्रवेश नहीं कर पाती। अगर होती भी है तो यह उसे नष्ट कर घर में धन की वृद्धि करती है।
तुलसी के गमले में दूसरा कोई पौधा न लगाएं। तुलसी हमेशा घर के पूर्व या उत्तर दिशा में लगाएं।
वास्तु के अनुसार, घर के दक्षिण भाग को छोड़कर कहीं भी तुलसी का पौधा लगाया जा सकता है क्योंकि दक्षिण में लगा पौधा फायदे की बजाय नुक्सान पहुंचा सकता है।
प्राचीन परम्परा से तुलसी का पूजन सद्गृहस्थ परिवार में होता आया है, जिनकी संतान नहीं होती, वे तुलसी विवाह भी कराते हैं। तुलसी पत्र चढ़ाए बिना शालिग्राम का पूजन नहीं होता। विष्णु भगवान को चढ़ाए श्राद्ध भोजन में, देव प्रसाद, चरणामृत, पंचामृत में तुलसी पत्र होना आवश्यक है अन्यथा वह प्रसाद भोग देवताओं को नहीं चढ़ता। मरते हुए   प्राणी के अंतिम समय में गंगाजल व तुलसी पत्र दिया जाता है। तुलसी जितनी धार्मिक मान्यता किसी भी पेड़-पौधे की नहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here