इस चर्च में जमकर शराब पीते हैं बिशप, बोतलें हाथ में लेकर करते हैं प्रार्थना

18

Source: bhaskar.com

चर्च के पादरियाें का शराब के नशे में प्रार्थना करना सुनने में चौंकाने वाला लगे, पर यह असलियत है।इस चर्च में जमकर शराब पीते हैं बिशप, बोतलें हाथ में लेकर करते हैं प्रार्थना

हाथ में बियर की बोतल लिए बिशप Tsietsi Makiti

चर्च के पादरियाें का शराब के नशे में प्रार्थना करना सुनने में चौंकाने वाला लगे, पर यह असलियत है। जोहानसबर्ग के गोबोला चर्च के एक रूम में अक्सर ऐसा ही नजारा देखने मिलता है, जहां पादरियों के हाथ में बाइबल से पहले शराब की बोतल होती है। ठंडी बीयर से लेकर रेड वाइन तक सबकी पसंद की शराब यहां मौजूद रहती है। इस चर्च को 52 साल के Bishop Tsietsi Makiti ने शुरू किया है। क्यों अलग है ये चर्च?

चर्च को Tsietsi Makiti ने ऐसे लोगों के लिए बनाया था जिन्हें और किसी दूसरे चर्च में अंदर जाने की इजाजत नहीं मिलती थी। जब Makiti से पूछा गया कि वे शराब क्यों पीकर प्रार्थना क्यों करते हैं तो उन्होंने कहा कि यह आनंद का जरिया है।
– Makiti ने आगे कहा, जबतक जीजस धरती पर नहीं आए, तबतक लोगों के पास आनंद का कोई जरिया नहीं था। फिर जीजस ने पानी को वाइन में बदल दिया जिससे लोगों के शरीर में ऊर्जा आए। इसी वजह से यहां पर भी बिशप और सारे लोग शराब पीने के पहले और बाद में भी प्रार्थना करते हैं। जिससे उन्हें शांति का अहसास हो।
हर जगह है ईश्वर
– Michael Motsepe नाम के एक व्यक्ति ने कहा कि उसे यहां आना घर जैसा लगता है। वो यहां आकर शराब पीता है। जब माइकल से पूछा गया कि चर्च में वे क्यों शराब पीते हैं, तो उन्होंने कहा कि ईश्वर हर कहीं इसलिए और बाकी जगह में कोई फर्क नहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here